Sunrise: 7:08    Sunset:17:27 (Delhi)

Home Page

Pranamya Sagar Ji

स्व-समय / Self-time/ Swo-Samaye

स्व-समय का सही अर्थ और कीमत समझना जरूरी है । अतीत अशुद्ध होता है । वर्तमान ही सत्य और शुद्ध होता है।

धर्म को धारण करना/ Holding on to Religion/ Dharma Ko Dharan Karna

कभी किसी के लिए गलत धारणा नही रखनी चाहिए। धर्म का अर्थ अलग -अलग होता है। धर्म हमेशा धारण करना चाहिए।

नए जीवन की शुरूआत/ Starting of New Life/ Naye Jiwan ki Shuruat

नए जीवन की खोज आवश्यक है । नए जीवन की खोज में गुरु सहायक होते हैं, इसलिए उनका स्थान सबसे ऊपर होता है

मन और आत्मा/ Mind and Soul/ Man Aur Atma

मन को दुख नही होता है, दुख आत्मा को होता है। मोह मन और आत्मा पर हावी होते हैं। Mind does not hurt,
Design and developed By Creation And Development